देश में वृहद स्तर पर चलाया गया नारी सशक्तिकरण अभियान

-प्रदेश की एक करोड़ तैंतीस लाख से अधिक महिलाओं तक पहुंचा अभियान का लाभ- प्रो0 रीता बहुगुणा जोशी

लखनऊ (वेबवार्ता/ अजय कुमार वर्मा) । प्रदेश में महिलाओं के समाजिक एवं आर्थिक सशक्तिकरण हेतु केन्द्र सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं के संबंध में महिलाओं को जागरूक करने के लिए दिनांक 20 नवम्बर, 2018 से दिनांक 18 दिसम्बर 2018 तक नारी सशक्तिकरण अभियान का संचालन किया गया है। अभियान में शिक्षा, स्वरोजगार, स्वास्थ्य एवं पोषण, स्वच्छता तथा सुरक्षा जैसे विषयों का समावेश है। उ0प्र0 सरकार का यह एक अभिनव प्रयास है, जिसके द्वारा महिलाओं से महिला सशक्तिकरण के विषय पर सीधा संवाद किया गया। यह जानकारी देते हुए प्रदेश की महिला कल्याण मंत्री प्रो0 रीता बहुगुणा जोशी ने आज लोकभवन में प्रेस कान्फ्रेंस में अवगत कराया।
उन्होंने कहां कि प्रदेश में इस अभियान का सफलतापूर्वक संचालन हुआ है। अभियान के दौरान 1.33 करोड़ महिलाओं से उनके घर जाकर सम्पर्क किया गया तथा उन्हें महिला सशक्तिकरण के लिए उठाये गये विभिन्न कदमों की जानकारी प्रदान की गयी, जिससे महिलाओं को सरकार की विभिन्न लाभपूरक योजनाओं का लाभ प्राप्त करने में सहायता मिलेगी। उन्होंने कहा कि इस अभियान के अन्तर्गत ग्राम स्तर पर आयोजित किये गए शिविरों में महिलाओं को विभिन्न आवश्यक सेवायें जैसे-पुष्टाहार, आयरन की गोलियां व आत्मरक्षा संबंधी प्रशिक्षण आदि प्रदान किया गया।
प्रो0 जोशी ने बताया कि यह अभियान पांच चरणों में आयोजित हुआ जिसके प्रथम चरण में लखनऊ समेत प्रदेश के समस्त जनपदों में दिनांक 20 नवम्बर, 2019 को शुभारम्भ कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें 9256 ब्लाॅक नारी सशक्तिकरण संयोजकों द्वारा प्रतिभाग किया गया। दूसरे चरण में दिनांक 21 से 26 नवम्बर, 2018 तक प्रदेश के सभी 820 विकास खण्डों पर नारी सशक्तिकरण दूतों के प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें कुल 1,09,318 नारी सशक्तिकरण दूतों ने प्रतिभाग किया। तीसरे चरण में दिनांक 27 नवम्बर से 15 दिसम्बर, 2018 तक कुल 69.81 हजार नारी सशक्तिकरण दूतों द्वारा महिला लाभार्थियों के घर जाकर उनसे सम्पर्क व महिला सशक्तिकरण संबंधी प्रयासों के संबंध में जानकारी दी गयी। इस दौरान 1.37 करोड़ महिला लाभार्थियों से सम्पर्क किया गया। चैथे चरण में दिनांक 16 से 17 दिसम्बर, 2018 तक ग्राम पंचायतों में नारी शक्ति शिविर का आयोजन किया गया, जिसमें बाल पुष्टाहार व आयरन गोली का वितरण, वित्तीय साक्षरता व प्रजनन-स्वास्थ्य संबंधी जागरूकता, आत्मरक्षा संबंधी कार्यशाला जैसी सेवायें प्रदान की जा रही हैं।
महिला कल्याणमंत्री ने बताया कि 62 जनपदों से प्राप्त सूचना के आधार पर दिनांक 16 दिसम्बर, 2018 को 4953 नारी शक्ति शिविरों का आयोजन हुआ, जिसमें 5.57 लाख महिला लाभार्थियों ने प्रतिभाग किया तथा दिनांक 18 दिसम्बर, 2018 को प्रदेश के सभी जनपदों में समापन समारोह का आयोजन हुआ, जिसमें बाल पुष्टाहार व आयरन गोली का वितरण, वित्तीय साक्षरता व प्रजनन-स्वास्थ्य संबंधी जागरूकता, आत्मरक्षा संबंधी कार्यशाला जैसी सेवायें प्रदान करने के साथ-साथ महिला सशक्तिकरण की दिशा में उठाये गये कदमों पर आधारित कार्यक्रमों का आयोजन सुनिश्चित किया गया।

IMG-20181218-WA0035.jpg

Leave a Reply

Close Menu